दिखावटी निवेश से यूपी का नहीं होगा विकास UP will not develop due to ostentatious investment 2022

Rate this post

UP will not develop due to ostentatious investment उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा कि दिखावटी निवेश से उत्तर प्रदेश का विकास नहीं होगा। उन्होंने लिखा कि कागज पर छपी मोमबत्ती दिखाने से उजाला नहीं होता । धरातल पर काम करना पड़ता है। दरअसल, उत्तर प्रदेश सरकार प्रदेश में निवेश के दावे कर रही हैं।

UP will not develop due to ostentatious investment

अखिलेश ने योगी सरकार पर साधा निशाना, कहा UP will not develop due to ostentatious investment

दरअसल, योगी सरकार के लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद और औद्योगिक विकास मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी के नेतृत्व में यूपी सरकार के प्रतिनिधिमंडल ने स्टॉकहोम स्वीडन में इन्वेस्टमेंट रोड शो के दौरान स्वीडिश व्यापार समुदाय से निवेश को लेकर मुलाकात की। 

साथ ही उन्हें ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट 2023 UP will not develop due to ostentatious investment

के लिए आमंत्रित किया। उत्तर प्रदेश सरकार दाब कर रही है कि राज्य में निवेश के लिए सरकार की नीतियां और सुरक्षित औद्योगिक वातावरण दुनियाभर के देशों को काफी पसंद आ रहा है। इस बीच स्वीडन बिजनेस कम्युनिटी ने उत्तर प्रदेश में गहरी दिलचस्पी दिखाते हुए कुल 15000 करोड़ रुपये के निवेश का प्रस्ताव दिया है। 

UP will not develop due to ostentatious investment

यूपी में निवेश करने वाली ये कंपनियां यहां फिल्म सिटी

रिटेल, टूरिज्म, वेस्ट मैनेजमेंट जैसे क्षेत्रों में पैसा लगाने के लिए तैयार हैं। स्वीडन के अलावा कनाडा के बैंकुवर से भी टीम योगी को 1200 करोड़ रुपए के छह एमओयू प्राप्त हुए हैं। स्टॉकहोम में रोडशो के दौरान आयोजित विभिन्न बी 2 जी और जो 2 जी बैठकों में रक्षा, कपड़ा और वस्त्र, खाद्य प्रसंस्करण, आटोमोबाइल और इलेक्ट्रिक वाहन, नवीकरणीय ऊर्जा सहित अन्य क्षेत्रों में निवेश बढ़ रहा है।

Share To Help

Leave a Comment